इस सप्ताह टूटते-बनते ग्रह-योग, हाजिर मार्कीट में जोरदार उठा-पटक की सम्भावना

Sunday, September 10, 2017 9:27 AM
इस सप्ताह टूटते-बनते ग्रह-योग, हाजिर मार्कीट में जोरदार उठा-पटक की सम्भावना

आलोच्य सप्ताह (13 से 19 सितम्बर तक) के दौरान तीनों सितारे— शुक्र, सूर्य तथा मंगल की स्थिति में बदलाव होता है। शुक्र तथा सूर्य अपनी राशि बदल कर क्रमश: सिंह तथा कन्या में दाखिल होते हैं, जबकि मंगल पूर्व में उदय होता है। इनके अतिरिक्त पिछले सप्ताह के आखिरी हिस्से में हुए बृहस्पति के राशि परिवर्तन का प्रभाव भी इस सप्ताह में नजर आ सकता है। इस तरह टूटते-बनते ग्रह-योग तथा सितारों की सामूहिक स्थिति को देखने से मालूम होता है कि यह सप्ताह अपने साथ अच्छी  उठा-पटक लाएगा, इसलिए बाजार को देख-परख कर काम करना सही रहेगा।


चल रहे सप्ताह में एक ही रुख बना रहे ऐसी आशा कम दिखती है, इसलिए एक ही रुख के साथ चिपके रहना ठीक न होगा। इस सप्ताह में 15, 18,19 सितम्बर खास दिन—वैसे 15 तथा 18 तारीख के लिए किसी अच्छे समय पर लगा एकतरफा फल सकता है। तेल मूंगफली, तेल सोया, सरसों, अलसी, तोरिया, तिल, तेल, बिनौला, अरंडी, खल, सींगदाना, मेंथा, पिपरामैंट, अन्य तेल पदार्थों, वनस्पति इत्यादि में 12 सितम्बर वाला रुख 13,14 को बना रहेगा। फिर 15 को मंदा आने पर 16 सितम्बर को मंदा। 18 तारीख को एकतरफा झटका आ सकता है। 


कॉटन, पटसन, रूई, कपास, सन्न, सूत, सिल्क, स्टैपल, ऊनी, सूती, रेशमी कपड़े तथा यार्न इत्यादि में 13, 14 सितम्बर मजबूती। 


15 वाला रुख 16 को बना रहेगा। 18,19 बाजार रुख पर नजर रखें। शेयर मार्कीट में 15 तथा 18 सितम्बर को एकतरफे झटके आ सकते हैं, ध्यान रहे। सोना, चांदी, हीरे, जवाहरात, बहुमूल्य पत्थरों, बहुमूल्य धातुओं में 12 सितम्बर को मजबूती रहने की सूरत में 13, 14 को मजबूती, फिर 15 सितम्बर को मंदी का झटका आने पर 16 को मंदा, 17 सितम्बर संडे, 18 सितम्बर बाजार एकतरफ जोर के साथ चलेगा, 19 को भी उठा-पटक।


गुड़, खांड, शक्कर तथा अन्य मीठी रसदार वस्तुओं तथा मिश्री इत्यादि में 13,14 सितम्बर कमीबेशी, 15 तारीख के रुख को देख कर 16 को काम करें। फिर 18 सितम्बर के रुख पर नजर रखें। 19 सितम्बर उठा-पटक होती रहेगी। गेहूं, गवारा, मटर, मक्की, चने, जौ, बाजरा, अरहर, मूंग, माष तथा अन्य अनाज पदार्थों, दालों इत्यादि में 15,18, 19 सितम्बर उठा-पटक के बाद एकतरफे फल सकते हैं। हाजिर मार्कीट में जोरदार उठा-पटक की सम्भावना, वैसे आम रुख में नपायेदारी बनी रहेगी। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!