जीवन में जब कभी उदास और हताश हों तो याद रखें यह 10 बातें

Tuesday, March 14, 2017 12:56 PM
जीवन में जब कभी उदास और हताश हों तो याद रखें यह 10 बातें

हमारे जीवन में अक्सर ऐसे मौके आते हैं जब हम बेहद निराश और उदास होते हैं। ऐसे मौके पर हमें खुद को अपने परिवेश की अच्छी चीजों की याद दिलानी पड़ती है। ऐसा करने से नकारात्मक चीजें अपने आप विलुप्त हो जाती हैं। तो जब भी उदासी और निराशा का बादल गहराए तो याद रखें ये 10 बातें:

1. वक्त सारे घाव भर देता है।

 

2. मौके हर जगह हैं।

 

3. दुनिया में अच्छे लोगों की कमी नहीं है जो आपकी मदद कर सकते हैं और आपको प्रेरित कर सकते हैं।

 

4. अगर आपको अपने बारे में कुछ पसंद नहीं है तो उसे आप कभी भी बदल सकते हैं।

 

5. कुछ भी उतना बुरा नहीं है जितना की दिखाई देता है।

 

6. जीवन सुलझा होता है, इसे उलझाएं नहीं।

 

7. असफलताएं और गलतियां आशीर्वाद और वरदान हैं।

 

8. जाने दो यारो वाला एटीच्यूड अपनाएं, आप हमेशा प्रसन्न रहेंगे।

 

9. यह पूरी सृष्टि हमेशा आपके पक्ष में काम करती है न कि विरोध में।

 

10. हर अगला दिन आपके लिए नई उम्मीदों का भंडार लेकर आता है।


ये कहानी बदल देगी आपके सोचने का नजरिया


एक जगह चार दीपक जल रहे थे। वे आपस में बातें करने लगे। पहला दीपक बोला- ‘‘हे ईश्वर! इस दुनिया में कितनी मार-काट मची हुई है। लोग स्वार्थ से अंधे हो गए हैं। ऐसे लोगों के लिए मेरी रोशनी किस काम की। और वह बुझ गया।’’

 

उसकी बात सुन रहा दूसरा दीपक भी कहने लगा, ‘‘लोगों के लिए पैसा ही सब कुछ हो गया है। जीवन से ज्ञान और संस्कार का प्रकाश खत्म हो चुका है, फिर मैं ही जल कर क्या कर लूंगा?’’ और वह भी बुझ गया।

 

तीसरा दीपक तो और भी निराश था। हालांकि उसमें पहले दो दीपों से ज्यादा तेल बाकी था। वह बोला, ‘‘अच्छी बात बताई जाए सही राह दिखाई जाए तो लोग बुरा मानने लग जाते हैं, मजाक उड़ाते हैं। फिर मेरी रोशनी से क्या फर्क पड़ जाएगा।’’ और वह भी मंद पड़ कर बुझ गया।

 

लेकिन चौथा दीपक जलता रहा। उसने मन ही मन कहा, ‘‘जब तक मुझ में तेल और बाती बाकी है, मैं जलता रहूंगा।’’  हमें इस चौथे दीपक की तरह बनने की जरूरत है।

 

शिकायतें न करें, हताश न हों। सच्चाई के मार्ग पर चलते रहें। यही नहीं, बुझ चुके अन्य दीपों को भी रोशन करते चलें।

 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !