इस वर्ष 400वीं वर्षगांठ बना रहा प्लाजा मेयर, यहां हर समय रहता है पर्यटकों का तांता

Monday, May 15, 2017 1:20 PM
इस वर्ष 400वीं वर्षगांठ बना रहा प्लाजा मेयर, यहां हर समय रहता है पर्यटकों का तांता

मैड्रिड में जितने पर्यटकों को सैंट्रल प्लाजा मेयर आकर्षित करता है उतना अन्य कोई स्क्वेयर नहीं करता। यह इस वर्ष अपनी 400वीं वर्षगांठ मना रहा है। किसी वक्त इसका इस्तेमाल विधर्मी लोगों को जलाने के लिए किया जाता था परंतु अब प्लाजा मेयर में स्ट्रीट कैफे में आराम फरमाते या मार्कीट में शापिंग करते पयर्टक अधिक दिखाई देते हैं। यहां के बुटीक तथा रेस्तरांओं का इतिहास सैंकड़ों वर्ष पुराना है। इसके प्राचीन स्तम्भों के पीछे बुटीक, विभिन्न व्यंजनों वाले बार तथा रेस्तरां हैं जबकि उनके ऊपर से एक शानदार 4 मंजिला भवन के टावर दिखाई देते हैं।
PunjabKesari
एक बड़े स्क्वेयर में मध्य में घोड़े पर सवार किंग फिलिप तृतीय की एक प्रतिमा स्थित है। प्रतिवर्ष इस प्लाजा में एक करोड़ लोग आते हैं। अर्जेंटीना के सांद्रा तथा रॉबर्टो कहते हैं, ‘‘यह जगह तो जैसे जादुई है।’’ उत्तरी हिस्से में पेंटिड कासा डी ला पाना देरिया (बेकरी हाऊस) तथा इसकी विपरीत दिशा में डार्क रैड कासा डी ला कार्नीसेरिया (बुचरी हाऊस) इसे मैड्रिड में फोटो खिंचवाने का सर्वश्रेष्ठ स्थान बनाते हैं। पिछले 400 वर्ष इस स्क्वेयर के लिए काफी समारोह पूर्ण रहे हैं। स्पेनिश अदालती जांच पड़ताल के बाद विधर्मियों को जलाना, बैलों की लड़ाई, शाही समारोह, विवाह समारोह तथा बाजार तक इस स्क्वेयर प्रयोग हरसंभव उद्देश्य के लिए किया जाता रहा है। यह स्क्वेयर तीन बार आग का शिकार भी हो चुका है। अंतिम बार यहां आग 1790 में लगी थी जिसमें इसका एक-तिहाई हिस्सा जल गया था।

पिछले 30 वर्षों से स्पेन की राजधानी में टूर गाइड के तौर पर काम कर रही ब्लांका हरनांदेज कहती हैं, ‘‘ऐसे अग्नि कांड असामान्य नहीं थे क्योंकि यहां के घर लकड़ी से बने हैं।’’ उससे पहले यहां के निवासी खाना पकाने तथा गर्म करने के लिए खुली आग पर निर्भर रहते हैं परंतु इस प्लाजा का हमेशा पुनर्निर्माण किया जाता था। अब इसके 400वें जन्मदिन के उपलक्ष्य में हर तरह की गतिविधियां हो रही हैं। 129 मीटर 94 मीटर का प्लाजा मेयर फुटबाल की पिच से बड़ा है और यह वर्गाकार नहीं बल्कि आयताकार है।

हरनांदेज बताती हैं, ‘‘पर्यटकों की पहली प्रतिक्रिया आश्चर्यचकित करने वाली होती है। जो सबसे आश्चर्यचकित करने वाली बात है। वह यह कि वे एक छोटी लेन से आते हैं और अचानक वह खुद को एक बड़े स्क्वेयर में पाते हैं।’’ खूबसूरत होने के साथ ही यह प्लाजा पर्यटकों से भरा रहता है और स्पेनिश जीवनशैली से जीवंत रहता है। अपने वर्तमान रूप में इस स्क्वेयर का निर्माण प्लाजा डेल अराबल के शिखर पर किया गया था। जब राजा फिलिप द्वितीय ने 1561 में अपना दरबार मैड्रिड में लाने का निर्णय किया था तो यह मुख्य मार्कीट स्क्वेयर था। उस वक्त यह शहर सिर्फ एक छोटा नगर था। इस स्क्वेयर के नवीकरण की योजना सबसे पहले फिलिप द्वितीय ने बनाई थी परंतु 1617 में फिलिप तृतीय ने आर्किटैक्ट जुआन गोमेज डीमोर को इसमें शामिल करके प्लाजा का रूप बदलने का कार्य शुरू करवाया था। 

हरनांदेज कहती हैं कि इसी कारण इस स्क्वेयर की सही वर्षगांठ का नहीं पता। फिर भी समारोह हो रहे हैं। शहरी अधिकारियों द्वारा हाल ही में प्रकाशित अधिकारिक प्रोग्राम के अनुसार यहां संगीत समारोह, बारोक फैस्टीवल, सिनेमा शोज, नाटक तथा मास्क्यूरेड बॉल जैसे प्रोग्राम करवाए जाएंगे। प्लाजा मेयर 400वीं वर्षगांठ से जुड़े कार्लोस सोटोस कहते हैं, ‘‘हमारा उद्देश्य इस बात को सुनिश्चित बनाना है कि जो भी मैड्रिड आए उसे पता हो कि प्लाजा मेयर में हमेशा कुछ न कुछ होता रहता है। उनकी इच्छा है कि यह स्क्वेयर एक ‘थीम पार्क’ बन जाए जिसमें सांस्कृतिक समारोहों जैसे स्थायी प्रोग्राम होते हों। परंतु यह प्लाजा तो कई वर्षों से नियमित तौर पर समारोहों की मेजबानी करता आ रहा है जैसे प्रसिद्ध मर्सादो डी मोनेडास सैलोस जो रविवार को लगने वाला बाजार है जिसमें स्तम्भों के नीचे सिक्के तथा मोहरें बेची जाती हैं। साथ ही यहां पारम्परिक क्रिसमस मार्कीट मर्साडिलो डी नेवीडैड भी लगती है। सूर्यास्त के बाद यहां का वातावरण सर्वश्रेष्ठ होता है जब स्क्वेयर की लाइटें जल उठती हैं और रात के गहरे नीले आकाश में पहले तारे नजर आने लगते हैं। हरनांदेज कहती हैं, ‘‘यही वह समय होता है जब अधिकतर पर्यटक इस स्थान को सर्वश्रेष्ठ मानते हैं, जब रात होती है और स्क्वेयर खाली तथा शांत होता है। यह एक अलग ही दौर में जाने जैसा होता है। आपको यह महसूस नहीं होता कि आप 21वीं शताब्दी के मैड्रिड में हैं।’’
 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !