तुलसी केे पत्तों का इस तरह करें इस्तेमाल, वार करने वाले होंगे परेशान

Friday, August 11, 2017 11:08 AM
तुलसी केे पत्तों का इस तरह करें इस्तेमाल, वार करने वाले होंगे परेशान

हर हिंदू के घर में तुलसी का पौधा जरूर होता है। यह भगवान विष्‍णु का बहुत प्रिय है। तुलसी साक्षात् लक्ष्मी स्वरूपा हैं और भारत के हर भाग में सहज उपलब्ध हैं। जिस घर में तुलसी का पौधा नहीं, वह घर सूना समझा जाता है। तुलसी का स्पर्श कर घर में प्रवेश करने वाली वायु साक्षात् अमृत होती है। दैहिक स्वास्थ्य को सिद्ध करती है। प्रतिदिन तुलसी को जल चढ़ाने से न केवल स्वास्थ्य अच्छा रहता है अपितु इससे भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और घर में धन-धान्य की वृद्धि करते हैं। तुलसी के पौधों को यदि घर की उत्तर-पूर्व दिशा में रखा जाए तो उस स्थान पर अचल लक्ष्मी का वास होता है अर्थात उस घर में आने वाली लक्ष्मी टिकती है। तुलसी के कुछ उपाय करने से विकट से विकट समस्या का सामाधान निकल आता है। 


आर्थिक पक्ष मजबूती हेतु घर में तुलसी का पौधा लगाकर प्रत्येक वीरवार को तुलसी की विशेष पूजा करें तथा जल सींचते समय थोड़ा दूध भी मिला लें। इससे ॐ पक्ष में शुभता एवं मजबूती का योग बनेगा। कमल गट्टे की माला से मां लक्ष्मी के बीज मंत्र का जाप भी पूजा स्थान पर करें और श्री विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें।


घर के मध्य कच्चा स्थान रख कर उसमें तुलसी का पौधा रोपित करें। इससे कभी भी घर में धन की कमी नहीं होती।


रात को सोते समय डर लगे, बुरे स्वप्नों का डर सताए या फिर घर में नकारात्मक शक्तियों का अहसास हो तो नींद के आगोश में जाने से पहले अपने सिरहाने के पास या उसके नीचे पांच तुलसी के पत्ते रखें।


दंपत्ति में लड़ाई-झगड़ा रहता हो तो पति-पत्नी अपने पास हमेशा तुलसी के पांच पत्ते रखें। प्रतिदिन सुबह पाठ-पूजा करने के बाद इन पत्तों को बदल दें। ऐसा 21 दिन तक  करें। सूखे पत्तों को पवित्र जलाशय में प्रवाहित कर दें।
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!