लक्ष्मी मंत्र: राशि अनुसार जपिए, भर देते हैं घर में धन ही धन

Thursday, August 31, 2017 10:03 AM
लक्ष्मी मंत्र: राशि अनुसार जपिए, भर देते हैं घर में धन ही धन

सनातन धर्म में देवी लक्ष्मी को धन की देवी माना गया है। उनकी कृपा से ही व्यक्ति रूपए-संपत्ती से संबंधित सुख-सुविधाएं पा सकता है। यदि महालक्ष्मी मेहरबान हो जाएं तो घर में भर देती हैं धन ही धन। राशि अनुसार जपिए लक्ष्मी मंत्र, इन मंत्रों का कोई विशेष विधान नहीं है। प्रातकाल: उठ कर शुद्ध होने के पश्चात धूप-दीप करने के पश्चात ऊन या कुशासन पर बैठें एवं अपनी शक्ति अनुरूप एक, तीन या पांच माला का जाप करें। निश्चित ही इसका प्रभाव होगा, जिससे धन, यश और समृद्धि की वृद्धि होगी।


मेष
मंत्र- श्रीं


वृषभ
मंत्र- ॐ सर्वबाधा विर्निमुक्तो धनधान्यसुतान्वित:, मनुष्यो मत्प्रसादेन भविष्यति न संशय: 


मिथुन
मंत्र- ॐ श्रीं श्रीये नम:


कर्क
मंत्र- ॐ श्री महालक्ष्म्यै च विद्महे विष्णु पत्न्यै च धीमहि तन्नो लक्ष्मी प्रचोदयात् ॐ


सिंह
मंत्र- ॐ श्रीं महालक्ष्म्यै नम: 


कन्‍या
मंत्र- ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं महालक्ष्मी नम:


तुला
मंत्र- ॐ श्रीं श्रीय नम:

 

वृश्चिक
मंत्र-  ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मीभयो नम:


धनु
मंत्र-  ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्म्यै नम:


मकर
मंत्र-  ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं सौं ॐ ह्रीं क ए ई ल ह्रीं ह स क ह ल ह्रीं सकल ह्रीं सौं ऐं क्लीं ह्रीं श्री ॐ


कुंभ
मंत्र- ऐं ह्रीं श्रीं अष्टलक्ष्मीयै ह्रीं सिद्धये मम गृहे आगच्छागच्छ नमः स्वाहा


मीन
मंत्र- ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्म्यै नम:



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!