वास्तु: भारी पड़ सकती हैं महिलाओं पर ये गलतियां

Wednesday, January 31, 2018 1:33 PM
वास्तु: भारी पड़ सकती हैं महिलाओं पर ये गलतियां

वास्तुशास्त्र के अनुसार रसोई को घर का सबसे महत्वपूर्ण भाग माना जाता है। घर में कई बीमारियों और परेशानियों का कारण किचन से जुड़े वास्तुदोष हो सकते हैं। आप किस दिशा में मुंह करके खाना बनाते हैं, किस दिशा में मुंह करके खाना खाते हैं इन सब बातों का वास्तु के अनुसार बहुत असर पड़ता है। यदि घर की रसोई गलत दिशा में हो तो घर-परिवार के सदस्यों को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इतना ही नहीं, अगर गलत दिशा में मुंह रखकर खाना बनाया जाता है तो भी घर में अशांति, झगड़े, धन हानि और बीमारियां बढ़ने लगती हैं। इन सबका सबसे बुरा प्रभाव घर की महिलाओं पर पड़ता है। उनके विचारों में नकारात्मकता बढ़ने लगती हैं। अनजाना डर भी बना रहता है। जिससे घर में विवाद और तनाव बढ़ने लगता है।


अगर वास्तु से जुड़ी कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो परिवार के लोगों को कई परेशानियों से बचाया जा सकता है। आईए जानें ये बातें-

वास्तु के अनुसार घर का किचन पूर्व और दक्षिण दिशा के बीच वाले कोण में होना चाहिए। ऐसा नहीं होने पर उस घर में अशांति और अन्य तरह की परेशानियां होने लगती हैं। इस समस्या से बचने के लिए महिलाओं को घर के आग्नेय कोण यानि पूर्व और दक्षिण दिशा के बीच वाले हिस्से में ही किचन बनवाना चाहिए और सही दिशा में मुंह रखकर खाना बनाना चाहिए।


उत्तर दिशा की ओर मुंह करके खाना बनाने से बिजनैस में लगातार नुक्सान हो सकता है। साथ ही धन-संपत्ति की हानि हो सकती है।


दक्षिण-पश्चिम दिशा की ओर मुंह कर खाना पकाने से घर की सुख-शांति भंग होती है। घर में लड़ाई-झगड़ों की संभावना बढ़ने लगती है।


पश्चिम-दिशा की ओर मुंह करके खाना बनाने से घर के सदस्यों को त्वचा और हड्डी के रोग होने का डर रहता है।


दक्षिण दिशा का ओर मुंह करके खाना बनाने से घर की महिलाओं को कई तरह के रोगों से जूझना पड़ सकता है।


घर-परिवार में सुख-शांति हेतु पूर्व दिशा की ओर खाना बनाना सबसे अच्छा माना जाता है। 


वास्तु के अनुसार अगर खिड़की पूर्व दिशा की ओर हो तो ये बहुत घर के सदस्यों के लिए शुभ रहता है।
 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन