सच्चे मन से करें इस मंत्र का जाप, भैरव बाबा प्रसन्न हो पूर्ण करेंगे इच्छाएं

Sunday, March 5, 2017 4:26 PM
सच्चे मन से करें इस मंत्र का जाप, भैरव बाबा प्रसन्न हो पूर्ण करेंगे इच्छाएं

कालभैरव भगवान शिव का ही स्वरूप है। भगवान शिव के क्रोधित होने पर कालभैरव की उत्पति हुई थी। जिस प्रकार भोलेनाथ एक लोटे जल से भी प्रसन्न हो जाते हैं। उसी प्रकार सच्चे मन से कालभैरव बाबा की पूजा करने से वे प्रसन्न होकर फल प्रदान करते हैं। रविवार के दिन भैरव बाबा के कुछ मंत्रों का उच्चारण करना शुभ होता है। इससे व्यक्ति की प्रत्येक मनोकामना पूर्ण होती है। 

 

रविवार के दिन सुबह शीघ्र उठकर स्नानादि कार्यों से निवृत होकर कालभैरव की फूल, माला अौर दीपक प्रज्वलित करके पूजा करें। इसके साथ भैरव बाबा के इस मंत्र का जप करें। ऐसा करने से सभी कष्टों से मुक्ति मिल जाएगी। 

 

॥ऊं भ्रं काल भैरवाय फट॥
।। ॐ हं षं नं गं कं सं खं महाकाल भैरवाय नम:।।
|| ॐ भयहरणं च भैरव: ||

 

इसके अतिरिक्त शत्रुअों से मुक्ति हेतु इस मंत्र का जप करें।

 

ऊं ह्रीं बटुकाय आपदुद्धारणाय कुरूकुरू बटुकाय ह्रीं।


 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!