घर और जेब धन-धान्य से परिपूर्ण रहें, द्वार पर लटकाएं ये सामान

Monday, April 24, 2017 11:56 AM
घर और जेब धन-धान्य से परिपूर्ण रहें, द्वार पर लटकाएं ये सामान

आज के युग में हर व्यक्ति की पहली प्राथमिकता अधिक से अधिक धन कमाने की है और हो भी क्यों नहीं, आज के भौतिकता प्रधान युग का भगवान कमोबेश रुपया ही है। अत: घर और जेबें धन-धान्य से परिपूर्ण रहें, इसके लिए मेहनत के साथ-साथ वास्तु  आधारित उपायों पर भी आज गंभीरता से ध्यान दिया जा रहा है। इसी क्रम में चीनी वास्तु पद्धति ‘फेंग शुर्ई’ पर्याप्त संख्या में लोगों का विश्वास अर्जित कर रही है, द्वार पर लटकाएं ये सामान।  


सिक्के अंदर लटकाएं 
लाल रिबन से बांधकर सिक्के हमेशा द्वार के अंदर लटकाने चाहिएं। बाहर सिक्के लटकाना उचित नहीं है। द्वार के भीतर लटके सिक्के दर्शाते हैं कि धन-समृद्धि आपके घर में प्रवेश कर गई है। बाहर सिक्के लटकाने का अर्थ है कि समृद्धि आपके द्वार पर दस्तक दे रही है लेकिन आ नहीं पा रही है। 


सिक्के हमेशा संख्या में तीन लटकाएं, अधिक सिक्के लटकाने से अधिक समृद्धि नहीं मिलेगी। पांच सिक्के तो कभी नहीं लटकाने चाहिएं क्योंकि पांच का अंक धन-समृद्धि का विरोधी है। सादे तांबे के सिक्के भी इस्तेमाल कर सकते हैं पर पुराने चीनी सिक्के जिनके बीच में वर्गाकार छेद होता है इस प्रयोजन के लिए सबसे अच्छे माने जाते हैं।
सिक्के हमेशा आगे के द्वार पर ही लटकाएं, कभी भी पिछले दरवाजे पर सिक्के न लटकाएं वर्ना पॉजिटिव एनर्जी (शी) बाहर से भीतर आकर पिछले दरवाजे से पुन: निकल जाएगी और नैगेटिव फोर्सेस (नकारात्मक शक्तियां) घर अथवा व्यापारिक संस्थान, आफिस आदि में हावी होने लगेंगी।


घंटियां बाहर लटकाएं 
घंटियों को हमेशा द्वार के बाहर लटकाएं। घंटियों की आवाज सुख-समृद्धि के आने की आवाज की द्योतक है। द्वार के बाहर लटकी घंटियों से सकारात्मक ऊर्जा आपके घर, आफिस में प्रवेश करती है। ध्यान रखें, ज्यादा घंटियां न लटकाएं। लाल रिबन में बंधी छोटी-छोटी पांच घंटियां मुख्य द्वार पर लटकाना शुभ होता है। अगर द्वार उत्तर में, पश्चिम में अथवा उत्तर-पश्चिम में है तो उस पर धातु की घंटियां लटकाएं। यदि द्वार पूर्व या दक्षिण-पूर्व में है तो धातु की घंटियां लटकाकर, क्रिस्टल अथवा सिरेमिक की बनी घंटियां लटकाना श्रेयस्कर होगा। ऐसे ही दक्षिण, दक्षिण-पश्चिम अथवा दक्षिण-पूर्व के द्वार पर भी क्रिस्टल की घंटियां लटकाएं।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !