गांधी जी के अनमोल सिद्धांत करें Follow, दुनियां होगी मुट्ठी में

Wednesday, June 7, 2017 1:58 PM
गांधी जी के अनमोल सिद्धांत करें Follow, दुनियां होगी मुट्ठी में

दुश्मनों को भी माफ करें
यह सिद्धांत अनेक धर्मों और मतों में पाया जाता है। कमजोर कभी माफ नहीं कर सकता। मजबूत शख्स ही दूसरों को माफ कर सकता है। आंख के बदले में आंख का सिद्धांत पूरी दुनिया को अंधा कर देगा।


कोई परफैक्ट नहीं होता
दुनिया में कोई परफैक्ट नहीं है। हमें हमेशा और बेहतर की कोशिश करनी चाहिए। ऐसा सिर्फ अपनी गलतियों को स्वीकर करने और उनसे सीखने से संभव है।


अपने प्रति ईमानदार रहें
अपने प्रति ईमानदार रहना चाहिए। अपने दिल की सुनें और उसी के अनुसार आगे बढ़ें। असली खुशी तभी मिलती है, जब आप जो सोचते हैं, जो कहते हैं और जो करते हैं, उनके बीच में एक तालमेल होता है।


अपनी जिंदगी पर काबू रखें
अक्सर लोग नाकामियों के लिए दूसरों को दोषी ठहराते हैं। दूसरे लोगों का आपकी जिंदगी पर असर तो हो सकता है लेकिन अपनी जिंदगी का नियंत्रण आपके अपने हाथ में होना चाहिए।


दुनिया बदलने के लिए खुद को बदलो
घर बैठ कर बदलाव की उम्मीद करने से कुछ नहीं होगा। दुनिया को बदलने के लिए घर से बदलाव शुरू करें। आपको देखकर दूसरे भी आगे आएंगे।


आइडिया पर एक्शन जरूरी
आजादी, लोकतंत्र और न्याय की बातें कागज पर अच्छी लगती हैं। क्या होता, अगर इन पर अमल नहीं किया जाता। एक्शन से ही आइडिया को जिंदगी मिलती है।


आज में जीना ही बेहतर
लोग बीते कल या आने वाले कल में जीना पसंद करते हैं लेकिन सबसे अच्छा आज में जीना है। आज को बेहतर बना कर हम अपने आने वाले कल को सुधार सकते हैं।


दृढ़ बने रहें
अपने मिशन पर दृढ़ रहें। पहले लोग आपको नजरअंदाज करेंगे, फिर आप पर हंसेंगे, फिर आपसे झगड़ा करेंगे और फिर आपकी जीत होगी।


साथियों में अच्छाई ढूंढें
हर व्यक्ति में कमियां होती हैं। कमियां देखने के बजाय दूसरों की अच्छाइयां देखें। अच्छाई को आगे बढ़ाने से पूरी दुनिया की स्थिति सुधर सकती है।


लगातार अपना सुधार करें
हमारे अंदर सीखने और अपनी स्किल्स को बेहतर बनाने की काबिलियत है। लगातार बेहतर बनें। अगर बदलाव को स्वीकार नहीं करते तो टिक नहीं सकते।
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!