जानिए, किस भगवान को अर्पित करें कौन सा भोग, घर में बनी रहेगी सुख-समृद्धि

Saturday, May 27, 2017 11:33 AM
जानिए, किस भगवान को अर्पित करें कौन सा भोग, घर में बनी रहेगी सुख-समृद्धि

स्वयं भोजन करने से पहले भगवान को भोग लगाने से इंसान हर बुराई से मुक्त हो जाता है। कोई भी पूजा, भंडारा, लंगर भगवान को भोग लगाए बिना अधूरे होते हैं। जिस प्रकार व्यक्ति को कुछ खास चीजें बहुत पसंद है। उसी प्रकार देवी-देवताअों की भी अलग-अलग चीजें प्रिय लगती है। जानिए, किस भगवान को कौन सा भोग लगाने से वे प्रसन्न होकर अपनी कृपा बनाए रखते हैं। 

मां लक्ष्मी को धन की देवी माना गया है। लक्ष्मी मंदिर में जाकर माता के प्रिय भोग को अर्पित करके प्रसन्न किया जा सकता है। देवी लक्ष्मी को सफेद और पीले रंग की मिठाई, केसर-भात बहुत पसंद हैं। कम से कम 11 शुक्रवार एक लाल फूल देवी लक्ष्मी को अर्पित करके भोग लगाएं। इससे घर में शांति अौर समृद्धि रहती है। 

श्री हरि को सूजी का हलवा अौर पंचामृत बहुत प्रिय है। सूजी का हलवा घी में बनाकर उसमें सूखे मेवे डालकर भगवान को भोग लगाएं। हर रविवार अौर गुरुवार को विष्णुृलक्ष्मी मंदिर में जाकर भोग लगाएं। इससे श्री हरि के साथ देवी लक्ष्मी भी कृपा प्राप्त होती है। इसके साथ ही घर में धन अौर संपन्नता की कमी नहीं होगी। श्री हरि के भोग में तुलसी भी जरुर रखें। 

भगवान शिव को भांग अौर पंचामृत पसंद हैं। शिवलिंग को दूध, दही, शहद, शक्कर, घी, जल से स्नान कराकर भांग-धतूरा, इत्र, चंदन, फूल, रोली, वस्त्र अर्पित किए जाते हैं। भोलेनाथ को रेवड़ी, चिरौंजी और मिश्री भी अर्पित की जाती है। ऐसा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है। 

शक्ति स्वरूपा मां दुर्गा को खीर, मालपुए, मीठा हलवा, पूरणपोली, केले, नारियल और मिठाई बहुत प्रिय हैं। नवरात्रि पर मां दुर्गा को हर दिन इन चीजों का भोग लगाने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। बुधवार अौर शुक्रवार को स्नानादि कार्यों से निवृत्त होकर मां दुर्गा के मंदिर में जाकर उन्हें हलवे का भोग लगाएं। मां दुर्गा को हर प्रकार का हलवा पसंद है। 

श्री गणेश को मोदक अौर मोतीचूर के लड्डू बहुत प्रिय है। शुद्ध देसी घी के बने बेसन के लड्डू भी गणेश जी को अर्पित किए जाते हैं। इसके अतिरिक्त बूंदी, नारियल, तिल और सूजी के लड्डू भी अर्पित किए जाते हैं। 

राम भक्त हनुमान जी को हलवा, पंच मेवा, गुड़ से बने लड्डू, डंठल वाला पान और केसर भात बहुत प्रिय है। इसके अतिरिक्त हनुमान जी को इमरती भी अर्पित की जाती है। लगातार पांच मंगलवार हनुमान जी को चोला अर्पित करके इन चीजों का भोग लगाया जाए तो हर कष्ट से मुक्ति मिल जाती है। 

भगवान श्री कृष्ण को माखन, मिश्री बहुत प्रिय है। इसके अतिरिक्त श्रीकृष्ण को हलवा, खीर, पूरनपोली, लड्डू अौर सैवइयां भी प्रिय हैं। 

भगवान श्रीराम को केसर भात, खीर, धनिया, कलाकंद, बर्फी, गुलाब जामुन को भोग प्रिय है। 

ज्ञान की देवी सरस्वती को दूध, पंचामृत, दही, मक्खन, सफेद तिल के लड्डू अौर चावल का लावा प्रिय है। मंदिर में जाकर मां सरस्वती को इन चीजों का भोग लगाएं। इससे ज्ञान में वृद्धि होती है। 

मां काली अौर भैरव बाबा को एक जैसा ही भोग लगता है। इन्हें हलवा, पूरी अौर मदिरा बहुत प्रिय है। अमावस्या में काली या भैरव बाबा के मंदिर जाकर इन चीजों का भोग लगाएं। इसके अतिरिक्त इमरती अौर पांच प्रकार की मिठाइयां भी अर्पित की जा सकती है। 
 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !