हर Friday करें ये काम, धन के साथ मिलेगा नाम और यश का वरदान

Thursday, March 2, 2017 9:01 AM
हर Friday करें ये काम, धन के साथ मिलेगा नाम और यश का वरदान

शुक्रवार को कुछ ऐसे काम हैं जिन्हें करने से मां लक्ष्मी सदा प्रसन्न रहती हैं। धन की देवी न केवल धन बल्कि नाम और यश भी देती हैं। जो भक्त देवी लक्ष्मी की पूजा करता है उनके लिए संसार में कुछ भी अप्राप्य नहीं है। गृह लक्ष्मी देवी गृहणियों यानि घर की स्त्रियों में लज्जा, क्षमा, शील, स्नेह और ममता रूप में विराजमान रहती हैं। वह मकान में प्रेम तथा जीवंतता का संचार कर उसे घर बनाती हैं। इनकी अनुपस्थिति में घर कलह, झगड़ों, निराशा आदि से भर जाता है। गृहस्वामिनी को गृह लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। जहां गृहस्वामिनी का सम्मान नहीं होता है, गृह लक्ष्मी उस घर को त्याग देती हैं। शुक्रवार के दिन घर की लक्ष्मी को 16 श्रृंगार करना चाहिए।

 

शुक्रवार को घर में खीर जरूर पकाएं। सुहागनों और कंजकों को बांटे।


महालक्ष्मी के सामने लाल रंग की बाती वाला दीपक अर्पित करें और उनकी दाईं ओर रखें।


शुक्रवार को सफेद वस्त्र धारण करें, मां लक्ष्मी के श्री स्वरूप व चित्रपट के सामने श्री सूक्त का पाठ करें एवं कमल फूल चढ़ाएं।


घर से निकलते समय थोड़ा सा मीठा दही खा कर निकलें।


पति-पत्नी में तनाव रहता है तो शुक्रवार के दिन अपने शयन कक्ष में प्रेमी पक्षी जोड़े की तस्वीर लगाएं।


बनते काम बिगड़ रहे हैं तो शुक्रवार के दिन काली चींटियों को शक्कर डालें।


शुक्रवार को माता लक्ष्मी के मंदिर जाकर शंख, कौड़ी, कमल, मखाना, बताशा मां को अर्पित करें। ये सब महालक्ष्मी को बहुत प्रिय हैं।


गज लक्ष्मी मां की उपासना करने से संपत्ति और संतान की प्राप्ति होती है। वीर लक्ष्मी माता की उपासना सौभाग्य के साथ स्वास्थ्य भी देने वाली होती है। शुक्रवार के दिन विधान से इनका पूजन करें।


ध्यान रखें
देवीभागवत पुराण में कहा गया है, लक्ष्मी पूजन से पहले गणेश वंदना करें तभी लक्ष्मी-नारायण पूजन का पुण्य प्राप्त होगा।

 

देवी लक्ष्मी को तुलसी और तुलसी मंजरी कदापि अर्पित न करें।


लक्ष्मी मां का एक रूप अन्न भी है। कुछ लोग क्रोध आने पर भोजन की थाली फैंक देते हैं, इस तरह की आदत धन वैभव एवं पारिवारिक सुख के लिए नुकसान दायक होती है।

 

 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !