शिवरात्रि पर्व पर पर्स में रखें खास धागा, जरूरत के अनुसार आता रहेगा पैसा

Tuesday, February 21, 2017 11:20 AM
शिवरात्रि पर्व पर पर्स में रखें खास धागा, जरूरत के अनुसार आता रहेगा पैसा

महाशिवरात्रि का पर्व 24 फरवरी शुक्रवार को पड़ रहा है। यह दिन धन की देवी लक्ष्मी को समर्पित है। शिवरात्री पर शिव पूजन करने से पूर्व उनके पुत्र गणेश जी के पूजन का विधान है। भोले बाबा ने स्वयं उन्हें अग्र पूजा का अधिकारी बनाया है। अत: सर्वप्रथम गणेश जी का पूजन करें और देवी लक्ष्मी को भी प्रसन्न करने का यह अच्छा अवसर है। दौलत-शौहरत की इच्छा तो हर किसी के मन में बसी होती है। शिवरात्री के दिन गणेश जी का खास उपाय करके इस इच्छा को फलीभूत किया जा सकता है। शिवरात्रि पूजन से पूर्व कच्चे धागे पर सात गांठ लगा कर उसे बप्पा के चरणों में रख दें, जब चौथे पहर की पूजा समाप्त हो जाए तो उस धागे को अपने पर्स में रख लें। इस उपाय से जरूरत के अनुसार आता रहेगा पैसा। कभी धन-धान्य के भंडार में कोई कमी नहीं आएगी। 


वास्तुशास्त्रीयों के अनुसार धन से संबंधित जो भी बाधाएं आती हैं उसका दोष घर अथवा दुकान में ही मौजूद होता है। बहुत कुछ ऐसा होता है जिनकी अनजाने में अनदेखी हो जाती है। बैंक और पर्स में धन की कमी को दूर करने के लिए शिवरात्रि के दिन प्रथम पूज्य गणेश जी और धन की देवी लक्ष्मी की प्रतिमा सही स्थान पर रखें। घर का उत्तरी हिस्सा धन संपत्ति का द्वार होता है, लक्ष्मी-गणेश की मूर्ति या तस्वीर इसी दिशा में स्थापित करें, नीचे लाल कपड़ा बिछाएं। शास्त्रों के अनुसार गणपति जी को महालक्ष्मी का मानस-पुत्र माना गया है। गणेश जी की मूर्त को महालक्ष्मी की मूर्त के बाएं तरफ विराजित करें। आदिकाल से पत्नी को च्वामांगीज् कहा गया है। बायां स्थान पत्नी को ही दिया जाता है। अतः कभी भी लक्ष्मी-गणेश को इस प्रकार स्थापित करें कि महालक्ष्मी सदा गणपति के दाहिनी ओर ही रहें, तभी पूर्ण फल प्राप्त होगा। 


वास्तु शास्त्र में बताई गई इन वस्तुओं को पर्स में रखें।

लाल रंग का कागज

चावल

गणेश लक्ष्मी की तस्वीर

पीपल का पत्ता

चांदी का सिक्का 

गोमती चक्र 

रुदाक्ष



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!