जीवन में भूलकर भी न करें ये कार्य, जल्द हो जाएंगे बर्बाद

Saturday, April 29, 2017 10:21 AM
जीवन में भूलकर भी न करें ये कार्य, जल्द हो जाएंगे बर्बाद

व्यक्ति अपने जीवन में जाने-अनजाने बहुत से ऐसे कार्य कर बैठता है, जिसके दुष्परिणाम उसे बाद में झेलने पड़ते हैं। यहां कुछ ऐसे ही कार्यों का उल्लेख किया गया है जिनको करने से व्यक्ति की न सिर्फ उम्र घटती है अपितु वह पूरी तरह बर्बाद हो जाता है। व्यक्ति इन कार्यों को न करके खुशहाल जीवन यापन कर सकता है। 

बासी भोजन खाना, खाने के दौरान व बाद में पानी पीना, थाली में ही हाथ धोना, टूटी हुई प्लेट में भोजन करना आदि कार्य करने से व्यक्ति गंभीर रोग अौर शोक से ग्रसित हो जाता है। इसके अतिरिक्त अधिकतर समय अकेले में भोजन करना, खाने में नमक कम मिर्च ज्यादा आदि कमियां निकालना भी उचित नहीं है। इन नियमों का पालन नहीं करने से बवासीर, कब्ज, कैंसर आदि रोग हो सकते हैं। इसके साथ ही व्यक्ति के घर की बरकत भी चली जाती है। 

कम सोने अौर अधिक समय तक जागने से संतुलन बिगड़ जाता है। टूटे पलंग पर सोना, पैर के ऊपर पैर रखना या दक्षिण दिशा में पैर करके सोने से व्यक्ति का उम्र ही नहीं घटती अपितु भविष्य पर भी दुष्प्रभाव पड़ता है। इसके अतिरिक्त बिना पैर धोए बिस्तर पर जाना, अधिक समय तक जागना, सूर्योदय अौर सूर्यास्त के समय सोने से उम्र घटती है। 

मंगलवार अौर शनिवार को बाल कटवाना, उसके बाद स्नान न करना, लंबी दाढ़ी या बाल रखना, बाल नोंचना, बालों को हाथों से तोड़ना आदि कार्य करने से उम्र कम होती है। इसी तरह बिना स्नान करे चंदन का लेप लगाने से जिंदगी के कई साल कम होते हैं। बालों में तेल लगाने के बाद बिना धोए यहीं हाथ शरीर के अन्य अंग को स्पर्श करते हैं तो ऐसे में व्यक्ति की उम्र कम होती है। 
 

अधिक्तर लोग रात को वस्त्र धोकर बाहर सूखने के लिए डाल देते हैं। ये वास्तु के नियमों के विरूद्ध है। दूसरों से वस्त्र मांगकर पहनने, अन्न मांगकर खाना अौर हर कहीं का जल बिना जांचे ग्रहण करने से भी उम्र घटती है। 

जो व्यक्ति नाखून चबाता है या फिर स्वयं को स्वस्थ नहीं रखता उसकी उम्र भी कम होती है। इसके अतिरिक्त घास के ढेर पर या कंकाल पर बैठने से व्यक्ति मृत्यु के नजदीक पहुंचता है।

दिन के समय अौर मंगलवार को संभोग करने से व्यक्ति की उम्र तो घटती ही है इसके साथ ही गंभीर रोग भी हो सकते हैं। मंगलवार को संभोग करने से जीवन में अचानक किसी शोक का सामना करना पड़ सकता है। अधिक भोग विलास अौर कामवासना में लिप्त व्यक्ति धीरे-धीरे मौत के मुंह में चला जाता है। 

कई लोग उंगली या गर्दन की हड्डी को चटकाते रहते हैं इससे दरिद्रता बढ़ती है। लंबे समय तक उंगुलियों को चटकाने से बुखार, जोड़ो के दर्द जैसी बीमारी हो सकती है। 

किसी भी प्रकार का नशा करने से सुख,समृद्धि अौर सेहत सभी एक समय बाद नष्ट हो जाती है। नशा धनवान व्यक्ति को भी गरीब बना देता है। 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !