खुशहाल जीवन के लिए याद रखें आचार्य चाणक्य की ये नीतियां

Saturday, February 25, 2017 3:40 PM
खुशहाल जीवन के लिए याद रखें आचार्य चाणक्य की ये नीतियां

आचार्य चाणक्य ने जीवन के हर पहलु से संबंधित नीतियों का उल्लेख किया है। जिन पर अमल कर व्यक्ति खुशहाल जीवन यापन कर सकता है। इसके साथ ही व्यक्ति सफलता हासिल कर आगे बढ़ सकता है। जानिए, चाणक्य द्वारा बताई ऐसी ही नीतियां-

 

यदि सांप जहरीला नहीं है तो भी उसे स्वयं को जहरीला दिखाना चाहिए अर्थात अपनी योग्यता को कभी भी दूसरों को न बताएं। 

 

धन सदैव योग्य व्यक्ति को ही देना चाहिए। किसी अोर को देने से धन नष्ट हो जाता है। 

 

सांप के फन, मक्खी के मुख अौर बिच्छु के डंक में जहर होता है। लेकिन दुष्ट लोगों के सिर से पैर तक जहर होता है। 

 

जो पुरुष स्त्री के गुण अौर संस्कार न देखकर उसकी बाहरी सुंदरता से आकर्षित होकर उससे विवाह कर लेता है। उसका वैवाहिक जीवन कदापि सुखी नहीं रहता। 

 

जिस व्यक्ति के पास दया अौर धर्म नहीं है उसे अपने से दूर करो। जिस गुरु के पास अध्यात्मिक ज्ञान नहीं है उसे दूर करो। इसके अतिरिक्त जिस पत्नी के चेहरे पर सदैव घृणा हो अौर जिन संबंधियों अौर मित्रों के पास प्रेम नहीं हैं उनसे दूरी बनाकर रहें। 

 

चाणक्य के अनुसार इन 6 बातों पर हमेशा गौर करना चाहिए। ये बातें हैं सही समय, मित्र, ठिकाना, रुपए कमाने के सही साधन, पैसे खर्चा करने के सही तरीके और आपके उर्जा स्रोत।

 

शरीर स्वस्थ अौर व्यक्ति के नियंत्रण में हो तो उसी समय आत्मानुभूति का उपाय कर लेना चाहिए।
 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !