चाणक्य नीति: ऐसी परिस्थितियां होने पर तुरंत छोड़ दें वह स्थान

Thursday, January 5, 2017 10:15 AM
चाणक्य नीति: ऐसी परिस्थितियां होने पर तुरंत छोड़ दें वह स्थान

राजनीति और कूटनीति के महान ज्ञाता आचार्य चाणक्य ने अपने जीवन के अनुभवों का चाणक्य नीति में उल्लेख किया। जिन पर अमल करने से व्यक्ति खुशहाल जीवन यापन कर सकता है। चाणक्य ने व्यक्ति को जीवन की हर समस्या का सामना करने के लिए कहा है लेकिन उन्होंने ऐसी ही कुछ परिस्थितियों के बारें में बताया है, जिनके आने पर तुरंत पीछे हट जाना चाहिए। 

 

* जब शत्रु आप पर अचानक हमला कर दे तो उस स्थान से शीघ्र हट जाएं। ऐसा न करने पर आपका ही नुक्सान होगा। चाणक्य के अनुसार शत्रु पूरी तैयारी के साथ आएगा अौर आप उससे अनजान होंगे। जिसके कराण वह आप पर भारी पड़ सकता है। इसलिए ऐसे स्थान से तुरंत भाग जाना चाहिए।

 

* किसी स्थान पर लड़ाई-झगड़ा हो रहा हो तो वहां से भी तुरंत चले जाना चाहिए। वहां रुकने पर आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। वहां रुकने पर आप हमलावरों का शिकार हो सकते हैं इसलिए उस स्थान से चले जाने में ही भलाई हैं। 

 

* कोई नीच व्यक्ति आपके पास आ जाए तो भी वहां से चले जाना चाहिए। उसके साथ रहने से आपका मान-सम्मान कम हो सकता है। नीच व्यक्ति के साथ रहने से लोग आपको भी उसके जैसा समझने लगेंगे। इसलिए इस प्रकार के लोगों से दूरी बनाकर रखने में ही भलाई है। 

 

* किसी जगह पर अकाल पड़ जाए तो उस स्थान को शीघ्र छोड़ कर भाग जाना चाहिए। जहां पर अकाल पड़ता है वहां पर जीवन यापन की चीजों का भी अभाव हो जाता है। ऐसे स्थानों पर रहने से जीवन संकट में आ सकता है। मूलभूत चीजों के बिना अधिक समय तक हम जीवित नहीं रह सकते इसलिए ऐसे स्थान से चले जाने में ही भलाई है। 
 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !