व‌र्ल्ड डाउन सिंड्रोम डे : 21 मार्च को बच्चों को किया जाएगा सम्मानित

Monday, March 20, 2017 8:18 PM
व‌र्ल्ड डाउन सिंड्रोम डे : 21 मार्च को बच्चों को किया जाएगा सम्मानित

चंडीगढ़ : डाउन सिंड्रोम से पीड़ित बच्चे देखने में साधारण बच्चों से भले ही अलग लगें, लेकिन उनमें भी वही बचपना, वैसी ही समझ बूझ होती है, शायद कुछ चीजें समझने में उन्हें थोड़ा ज्यादा वक्त लगे, लकिन उन्हें कमतर समझना गलत है। कई देशों में डाउन सिंड्रोम वाले बच्चों के लिए अलग स्कूल होते हैं। स्कूलों में यह धारणा होती है कि ऐसे बच्चे का बाकी पर बुरा असर पड़ सकता है. लेकिन ये सही नहीं। 

 

डाउन सिंड्रोम से प्रभावित बच्चे और उनके परिवार 21 मार्च को व‌र्ल्ड डाउन सिंड्रोम डे (डब्ल्यूडीएसडी) के मौके पर एकसाथ एकत्र होंगे। विभिन्न गतिविधियों में भाग लेंगे। पूरे विश्व में 21 मार्च को व‌र्ल्ड डाउन सिंड्रोम दिवस मनाया जाता है। यह एक वैश्विक जागरुकता दिवस है जिसे संयुक्त राष्ट्र द्वारा 2012 से आधिकारिक तौर पर मनाया जा रहा है। यह आयोजन मंगलवार को चंडीगढ़ ज्यूडिशियल एकेडमी, सेक्टर 43 में होगा।

 

जीएमसीएच-32 के साइकिएट्री विभाग द्वारा ग्रिड (गवर्नमेंट रीहेबलीटेशन इंस्टीट्यूट फॉर इंटेलेक्चुअल डिसएबीलिटीज) के साथ 'स्टेट लीगल सर्विस अथॉरिटी चंडीगढ़' और 'चंडीगढ़ डाउन सिंड्रोम सोसाइटी' की सहभागिता में डाउन सिंड्रोम से प्रभावित सभी पक्ष इस आयोजन के माध्यम से एक मंच पर होंगे। इस आयोजन का मुख्य लक्ष्य चंडीगढ़ को डाउन सिंड्रोम मुक्त शहर बनाना है।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!