CBSE के निर्देशों के बाद इन 14 सरकारी स्कूलों में शुरू होंगे वोकेशनल कोर्स

Monday, March 20, 2017 8:35 PM
CBSE के निर्देशों के बाद इन 14 सरकारी स्कूलों में शुरू होंगे वोकेशनल कोर्स

चंडीगढ़, (आशीष): सैंट्रल बोर्ड ऑफ सैकेंडरी एजुकेशन (सी.बी.एस.ई.) के निर्देशों के बाद शहर के 14 सरकारी स्कूलों में वोकेशनल कोर्स शुरू होंगे जो नौवीं और दसवीं के लिए होंगे। इससे पहले शहर के 23 स्कूलों में 11वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को वोकेशनल के कोर्स पढ़ाए जाते थे। फिर इसके बाद 9वीं और 10वीं कक्षा के लिए भी कोर्स शुरू किए गए थे, लेकिन इनकी तरफ छात्रों ने ज्यादा रुचि नहीं दिखाई। 

 

स्कूल का नाम                                                     कोर्स
1. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-23                 आई.टी. और ऑटोमोबाइल
2. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-47                 आई.टी. और ऑटोमोबाइल
3. जी.एम.एस.एस.एस. मनीमाजरा टाऊन       आई.टी. और ऑटोमोबाइल
4. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-45                 आई.टी. और ऑटोमोबाइल
5. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-27                 आई.टी. और ऑटोमोबाइल
6. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-40                 आइटी और रिटेल
7. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-8                   आई.टी. और ब्यूटी एंड वेलनैस
8. जी.जी.एस.एस.एस. सैक्टर-20                 आई.टी. और ब्यूटी एंड वेलनैस
9. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-37डी             ब्यूटी एंड वेलनैस और आई.टी.
10. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-22               रिटेल और आई.टी.
11. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-33              आइटी और ऑटोमोबाइल
12. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-19             आई.टी. और रिटेल
13. जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-37बी         आई.टी. और रिटेल
14. जी.जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-18         आई.टी. और रिटेल

 

नौकरी पाने में मिलता है लाभ :
शिक्षा विभाग की विषय एक्सपर्ट अनीता शर्मा के अनुसार नौवीं कक्षा से विद्यार्थी वोकेशनल कोर्स लेता है और 12वीं कक्षा तक लगातार उसी में पढ़ाई करता है तो कॉलेज जाकर दाखिला लेने में लाभ होता है। 12वीं के बाद यदि कोई छात्र आई.टी. कंपनी में काम करना चाहता है तो बी.सी.ए. का कोर्स करना पडता है। जिस विद्यार्थी ने स्कूल में 4 साल तक आई.टी. पढ़ी होगी उसे बी.सी.ए. में दाखिला भी आसानी से मिलेगा और परिणाम भी बेहतर रहेगा। इस प्रकार रिटेल पढऩे से एम.बी.ए. स्टूडैंट्स को लाभ मिलता है। ब्यूटी और वेलनैस कोर्स हर किसी के लिए अहम है। विदेशों में भी ब्यूटी एंड वेलनैस की ज्यादा डिमांड है।

 

5 हजार के करीब छात्रों को मिलेगा लाभ :
शिक्षा विभाग की तरफ से नौवीं कक्षा में कम से कम 60 और 10 वीं कक्षा के हर विद्यार्थी को इन कोर्स को करना अनिवार्य होगा। इस बार एक साल में करीब 5 हजार छात्रों का लक्ष्य रखा गया है, जिन्हें इन कोर्स से लाभ दिलाया जाएगा।

 

आने वाले वर्ष में सभी स्कूलों में शुरू होंगे वोकेशनल कोर्स : 
सीबीएसई के निर्देशों के बाद भी मात्र 14 स्कूलों में ही वोकेशनल कोर्स शुरू किए जा रेहैं। ऐसा इसलिए क्योंकि यहां वोकेशनल कोर्स की न तो डिमांड थी न ही विभाग ने केन्द्र से इसकी डिमांड की थी, लेकिन इस बार 15 मार्च को दिल्ली में हुई बैठक में जी.एम.एस.एस.एस. सैक्टर-37बी और जी.एम.एस.एस.एस.-18 में कोर्स शुरू करने का प्रपोजल पेश किया गया था, जिसे मंजूरी मिल गई। 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !