पंचकूला में आवारा कुत्तों पर लगेगी लगाम

Friday, April 21, 2017 11:13 AM
पंचकूला में आवारा कुत्तों पर लगेगी लगाम

पंचकूला(मुकेश) : पंचकूला नगर निगम क्षेत्र में आवारा कुत्तों के आतंक पर संज्ञान लेते हुए शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने पंचकूला निगमायुक्त एवं कार्यकारी अधिकारी, मुख्य सफाई निरीक्षक को तलब किया तथा प्रशासनिक अधिकारियों को जल्द ही विशेष कार्य योजना बनाते हुए समस्या के समाधान करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि लंबे समय से आवारा कुत्तों के कारण परेशानी झेल रहे नागरिकों को इससे निजात दिलाने में बरती जाने वाली लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसके लिए उन्होंने त्वरित रिएक्शन टीम गठित करने के निर्देश भी जारी कर दिए। 

 

पंचकूला में आमजन विशेषकर बच्चों एवं बुजुर्गों पर आवारा कुत्तों द्वारा हमला करने तथा काटने के मामलों में लगातार हो रही बढ़ौतरी पर संज्ञान लेते हुए शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने वीरवार सुबह पंचकूला निगम के प्रशासनिक अधिकारियों को तलब किया। उन्होंने नगर निगम के कमिश्नर ललित सिवाच, कार्यकारी अधिकारी अरविंद बाल्याण एवं मुख्य सफाई निरीक्षक से पंचकूला में आवारा कुत्तों की बढ़ती संख्या तथा इससे आमजन को हो रही परेशानी पर उठाए जा रहे कदमों की समीक्षा की।

 

अधिकारी कार्य योजना तैयार कर सुबह-शाम सैर करने वालों को दिलाएं निजात :
बैठक में निगम आयुक्त ललित सिवाच ने बताया कि कुत्तों का स्वाभाव उग्र होने के कारण वह आमजन पर हमलावर हो रहे हैं। बीते कुछ समय से ऐसे मामलों की संख्या पंचकूला के साथ-साथ नगर निगम चंडीगढ तथा मोहाली क्षेत्र में भी बढ़ी है। मंत्री कविता जैन ने कहा कि अधिकारी विशेष कार्य योजना तैयार करते हुए सुबह-शाम सैर करने में भी भय का सामना कर रहे नागरिकों को राहत दिलाएं। उन्होंने अधिकारियों से तत्काल क्विक रिएक्शन टीम का गठन करते हुए पंचकूला क्षेत्र में हालात सामान्य करने के लिए काम करने के निर्देश दिए हैं। 

 

नसबंदी पर हो तेजी से हो काम :
मंत्री कविता जैन के निर्देश पर निगम प्रशासन ने एक निगरानी समिति का भी गठन करने का निर्णय लिया है। यह समिति कुत्तों की नसबंदी एवं टीकाकरण के दौरान सरकार के पशु जन्म नियंत्रण दिशा निर्देशों के अनुसार कुत्तों को पकडने, परिवहन, टीकाकरण के काम की निगरानी करेगी तथा निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करवाएगी। इसमें उपनिदेशक पशुपालन विभाग, सेवानिवृत उपनिदेशक पशुपालन विभाग, जनस्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी, सरकार के एबीसी दिशा-निर्देशों के अनुसार एनजीओ/आरडब्ल्यूए के दो प्रतिनिधि शामिल होंगे।

 

नसबंदी एवं टीकाकरण के लिए 30 लाख का प्रावधान :
निगमायुक्त ने बताया कि आवारा कुत्तों की नसबंदी एवं टीकाकरण के लिए निगम प्रशासन द्वारा शार्ट टैंडर आमंत्रित किया गया है, जिसमें आगामी एक सप्ताह के अंदर ठेकेदार को काम आवंटित कर दिया जाएगा। इसके लिए वर्तमान वित्त वर्ष में 30 लाख रुपए राशि का प्रावधान किया गया है। 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !