चंडीगढ़वासी अब चलेंगे 3D ज़ेब्रा क्रॉसिंग पर, थमेंगे हादसे

Tuesday, November 14, 2017 5:45 PM
चंडीगढ़वासी अब चलेंगे 3D ज़ेब्रा क्रॉसिंग पर, थमेंगे हादसे

चंडीगढ़ : सड़क पर तेज गति से वाहन चलाते हुए रास्ते में अगर आपको उभरी हुई जेब्रा क्रासिंग दिखाई दे, तो आप सहसा चौंक जाएंगे। निश्चित रूप से आप अपनी गाड़ी की स्पीड कम कर लेंगे। हालांकि सड़क नार्मल ही रहेगी। वाहन चालकों की ट्रैफिक लाइट से पहले रफ्तार कम करने और क्रासिंग पर पैदल चलने वालों को सुरक्षा देने के लिए यह कदम उठाया गया है। कुछ इसी आइडिए को चंडीगढ़ नगर निगम भी वाहनों की रफ्तार को कंट्रोल करने के लिए इस्तेमाल कर रहा है। 

 

उत्तर भारत में दिल्ली के बाद चंडीगढ़ में इस तरह की जेब्रा क्रासिंग बनाई जा रही है। नगर निगम के अनुसार ऐसे जेब्रा क्रासिंग बनाने से पैदल चलने वालों को ज्यादा सुरक्षा मिलेगी और चालक अपना वाहन क्रासिंग से पहले ही रोक देगा। पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर नगर निगम के इंजीनियर विंग ने सेक्टर-7/26 के लाइट प्वाइंट से पहले ऐसी जेब्रा क्रासिंग बनाई है।

 

वाहन चालकों की स्पीड हुई कंट्रोल : 
थ्री डी रोड बनाने का उद्देश्य शहर की सड़कों को सुरक्षित और राहगीरों के लिए आसान बनाना है। ट्रैफिक के अनुपात से पहले अच्छी तरह से बनी सड़कों पर 50km/hr की स्पीड से गाड़ी दौड़ाई जाती है। दिल्ली से जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक 3D ज़ेबरा क्रासिंग होने के कारण गाड़ियों की गति अच्छी सड़क पर 30km/hr रह गयी है। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!