त्यौहारी सीजन में अब महंगी नहीं होगी चीनी

Friday, September 8, 2017 10:20 AM
त्यौहारी सीजन में अब महंगी नहीं होगी चीनी

नई दिल्ली: सरकार ने त्यौहारी सीजन के दौरान चीनी की आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों को नियंत्रण में रखने के लक्ष्य से 25 प्रतिशत की रियायती दर पर 3 लाख टन कच्ची चीनी का आयात करने को मंजूरी दे दी। सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय बाजार में चीनी के दाम घटने के बाद विदेशों से इसके भारी आयात पर अंकुश रखने के लिए चीनी पर आयात शुल्क 40 प्रतिशत से बढ़ाकर 50 प्रतिशत कर दिया था।

दुनिया में चीनी के दूसरे सबसे बड़े उत्पादक देश भारत में चीनी का उत्पादन सितम्बर में समाप्त होने जा रहे। देश में चीनी की वार्षिक मांग 2.4 से 2.5 करोड़ टन है। सरकार ने चीनी की घरेलू आपूर्ति बढ़ाने के लिए अप्रैल में 5 लाख टन कच्ची चीनी के शुल्क मुक्त आयात को अनुमति प्रदान की थी। सरकार ने त्यौहारों के दौरान चीनी के दाम नियंत्रण में रखने के लिए अगले 2 महीनों के दौरान चीनी मिलों पर चीनी स्टॉक रखने की सीमा लागू की है। पिछले महीने सरकार की जारी अधिसूचना के अनुसार सितम्बर अंत तक कोई भी चीनी मिल पूरे विपणन वर्ष 2016-17 में कुल उपलब्ध चीनी का 21 प्रतिशत से अधिक चीनी स्टॉक नहीं रख सकती तथा अक्तूबर माह में 8 प्रतिशत से अधिक चीनी स्टॉक नहीं रख सकती है। खुदरा बाजार में चीनी की औसत कीमत 42 रुपए किलो है जबकि ब्रांडेड चीनी 50 रुपए प्रति किलो के भाव पर उपलब्ध है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सफेद चीनी का दाम 8 प्रतिशत गिरा है जबकि कच्ची चीनी की कीमत में स्थिरता रही। इस दौरान चीनी के थोक बिक्री भाव भी यथावत रहे। 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !