प्रधानमंत्री राहत कोष: कंपनियों का योगदान 25 प्रतिशत कम

Tuesday, May 16, 2017 5:07 PM
प्रधानमंत्री राहत कोष: कंपनियों का योगदान 25 प्रतिशत कम

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री राहत कोष में कंपनियों का योगदान 2015-16 में 25 प्रतिशत घटकर 80.55 करोड़ रहा। कंपनी सामाजिक जिम्मेदारी (कंपनी सोशल रिस्पोंसेबिल्टी : सी.एस.आर.) के तहत किए जाने वाले 1,270 कंपनियों के खर्च पर नजर रखने वाली एक कंपनी ने यह जानकारी दी है। सी.आई.आई.-आई.टी.सी. सेंटर फॉर एक्सीलैंस फॉर सस्टेनेबल डिवैल्पमैंट की रिपोर्ट के मुताबिक हालांकि 31 मार्च 2016 को समाप्त वित्त वर्ष में 1,270 कंपनियों ने सामूहिक रूप से 8,185 करोड़ रुपए सी.एस.आर.पर खर्च किए जो वित्त वर्ष 2014-15 में खर्च किए गए 6,400 करोड़ रुपए की तुलना में 27 प्रतिशत अधिक है। यह खर्च कानूनी तौर पर उनके लिए जरूरी 8,900 करोड़ रुपए के अनिवार्य खर्च का 92 प्रतिशत है।  सर्वे के अनुसार कंपनी सी.एस.आर. मेेंं भागीदारी के संदर्भ में महाराष्ट्र, तमिलनाडु और गुजरात जैसे औद्योगिक राज्य 3 शीर्ष राज्य लगातार बने हुए हैं। 

क्या है सी.एस.आर.
बड़ी कंपनियों को 3 वित्त वर्ष के अपने औसत शुद्ध लाभ का 2 प्रतिशत सी.एस.आर. पर खर्च करना होता है। जिन कंपनियों का नैटवर्थ कम-से-कम 500 करोड़ रुपए है और कारोबार 1,000 करोड़ रुपए या उससे अधिक है तथा न्यूनतम शुद्ध लाभ 5 करोड़ रुपए है, उन्हें सी.एस.आर. नियमों का अनुपालन करना होता है।




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !