PNB और इलाहाबाद बैंक का हो सकता है मर्जर

Wednesday, June 14, 2017 4:04 PM
PNB और इलाहाबाद बैंक का हो सकता है मर्जर

नई दिल्लीः डूबते कर्ज की मार झेल रहे दो सरकारी बैंकों को जल्द राहत मिलने की उम्मीद है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सरकार ने पी.एन.बी. और इलाहाबाद बैंक के विलय की तैयारी लगभग पूरी कर ली है। दोनों बैंकों का विलय 1 अप्रैल 2018 तक लागू हो सकता है और दिसंबर 2017 तक विलय की प्रक्रिया पूरी होगी। इस मर्जर से इलाहाबाद बैंक के निवेशकों को ज्यादा फायदा होगा। मर्जर के तहत इलाहाबाद बैंक के 3 शेयर के बदले पी.एन.बी. के 2 शेयर मिलेंगे।

नॉन-कोर एसेट्स बेचेगा PNB 
विलय की तैयारी के तहत इलाहाबाद बैंक अपने एन.पी.ए. 7000 करोड़ रुपए से घटाकर 5000 करोड़ रुपए तक लेकर आएगा। इलाहाबाद बैंक 1641 करोड़ रुपए के एन.पी.ए. बेचने के लिए बोलियां मंगा चुका है। वहीं, पी.एन.बी. भी ए.आर.सी. को 11000-13000 करोड़ रुपए का एन.पी.ए. बेच सकता है। साथ ही पी.एन.बी. की नॉन-कोर एसेट्स भी बेचने की योजना है।
PunjabKesari
25 फीसदी घटाई जाएंगी बैंक की शाखाएं
दोनों बैंकों के विलय के बाद नए बैंक की शाखाएं 25 फीसदी घटाई जाएंगी। ग्रॉस एन.पी.ए. 12.8 फीसदी से घटाकर 8.5 फीसदी किया जाएगा। सरकार की ओर से 3 चरणों में 7000-8000 करोड़ रुपए की पूंजी डालेगी। हालांकि विलय की खबर पर दोनों बैंकों ने कोई जवाब नहीं दिया।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !