अप्रैल-जुलाई में प्याज निर्यात बढ़कर हुआ 56 प्रतिशत

Sunday, November 12, 2017 4:45 PM
अप्रैल-जुलाई में प्याज निर्यात बढ़कर हुआ 56 प्रतिशत

नई दिल्लीः देश का प्याज निर्यात इस साल अप्रैल-जुलाई के दौरान 56 प्रतिशत बढ़कर 12.29 लाख टन पर पहुंच गया है। पिछले साल की इसी अवधि में यह 7.88 लाख टन रहा था हालांकि कम आर्पूति के कारण इसकी खुदरा कीमतें 65-70 रुपए प्रति किलोग्राम पहुंच जाने के कारण अब इसके आयात का निर्णय लिया गया है।

वाणिज्यिक सतर्कता एवं सांख्यिकी महानिदेशालय (डीजीसीआईएस) के आंकड़ों के अनुसार, समीक्षाधीन अवधि के दौरान मूल्य के आधार पर भी प्याज का निर्यात 47.69 प्रतिशत बढ़कर 1,443.09 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। पिछले साल की इसी अवधि में यह 977.84 करोड़ रुपए रहा था।  सरकार ने एम.एम.टी.सी. जैसी व्यापार करने वाली सरकारी कंपनियों को पिछले सप्ताह मिस्र एवं चीन आदि देशों से प्याज का आयात करने की स्वीकृति दी है। यह निर्णय देश में प्याज की उपलब्धता बढ़ाने और स्थानीय भाव नरम करने के मद्देनजर लिया गया है।

राष्ट्रीय बागवानी शोध एवं विकास फाउंडेशन के कार्यकारी निदेशक पी के गुप्ता ने  बताया, ‘‘अप्रैल-जुलाई के दौरान निर्यात दो कारणों से बढ़ा है। पहला कारण न्यूनतम निर्यात कीमत का नहीं होना और दूसरा कारण वैश्विक कीमतों का काफी अधिक होना है।’’  उन्होंने आगे कहा कि पहली तिमाही में स्थानीय भाव काफी नीचे आ जाने से निर्यात ने किसानों को बेहतर दर पाने में मदद की है। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!