एंबी वैली खरीदने के लिए महिंद्रा और पीरामल ने दिखाई दिलचस्पी

Wednesday, February 7, 2018 6:24 PM
एंबी वैली खरीदने के लिए महिंद्रा और पीरामल ने दिखाई दिलचस्पी

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने एंबी वैली को हिस्सों में बेचने की मंजूरी लिक्विडेटर को दे दी है। महिंद्रा एंड महिंद्रा और पीरामल ग्रुप ने सहारा का हिल स्टेशन रिजॉर्ट खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है।  कोर्ट के मुताबिक ऐसी जरूरत लगे तो उसे टुकड़ों में बेचा जा सकता है।लिक्विडेटर ने अदालत को बताया है महिंद्रा एंड महिंद्रा और पीरामल ग्रुप ने इसे खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है। आधिकारिक लिक्विडेटर के वकील डेरियस खंबाटा ने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की बेंच को बताया कि दोनों पार्टियां ड्यू डिलिजेंस कर रही हैं। उन्होंने बताया कि पूरी प्रॉपर्टी को एक साथ बेचना बहुत मुश्किल होगा।

सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने सहारा ग्रुप को पहले चेतावनी दी थी कि अगर उन्होंने नीलामी प्रक्रिया में अड़ंगा लगाया तो उसे अदालत की अवमानना माना जाएगा और सुब्रत सहारा को दोबारा जेल भेजा जा सकता है। सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने पिछले सुनवाई में आधिकारिक लिक्विडेटर से कहा था कि वो इसकी नीलामी सुनिश्चित करें। बेंच ने कहा हम चाहते हैं कि प्रॉपर्टी नीलाम हो। बेंच ने लिक्विडेटर से कहा इस काम के लिए बॉम्‍बे हाईकोर्ट के जजों से निर्देश लें।

सहारा ने मांगा था समय
निवेशकों की रकम लौटाने के लिए सहारा ग्रुप को सुप्रीम कोर्ट में 24 हजार करोड़ रुपए जमा कराने हैं। इसी रकम के हिस्‍से के तौर पर 9000 करोड़ रुपए जमा कराने हैं जिसके लिए सहारा ने 18 माह का समय मांगा था, लेकिन अभी तक वो पूरी रकम नहीं चुका पाया है।
 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन