अनाज के लिए जगह की कमी नहीं, 773 लाख टन तक भंडारण क्षमता : FCI

Thursday, May 18, 2017 2:09 PM
अनाज के लिए जगह की कमी नहीं, 773 लाख टन तक भंडारण क्षमता : FCI

नई दिल्लीः देश में इस साल रिकॉर्ड खाद्यान्न उत्पादन होने के अनुमानों के बीच भारतीय खाद्य निगम (एफ.सी.आई.) ने कहा है कि अनाज रखने के लिए जगह की कोई कमी नहीं है और उसकी कुल भंडारण क्षमता 773 लाख टन तक पहुंच चुकी है। एफसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए कहा कि अनाज खरीद के लिए धन की भी कोई कमी नहीं है और पर्याप्त कोष उपलब्ध है। खाद्य मंत्रालय ने अप्रैल से शुरू रबी विपणन वर्ष 2017-18 के दौरान 330 लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य रखा है जबकि पिछले साल 2015-16 में 229.61 लाख टन खरीद की गई थी।

एफ.सी.आई. आंकड़ों के मुताबिक खरीफ विपणन वर्ष 2016-17 (अक्‍टूबर-सितंबर) में 15 मई तक चावल की खरीद 359.24 लाख टन हो चुकी है जो इससे पिछले विपणन सत्र में 342.18 लाख टन थी। इसके अलावा निगम ने सरकार के 20 लाख टन दलहन बफर स्टॉक के लिए पिछले खरीफ सत्र में लगभग 3 लाख टन दाल की भी खरीद की। अनाज की खरीद के लिए कोष के बारे में पूछे जाने पर अधिकारी ने कहा, 'कोष को लेकर पहले कुछ समस्या जरूर हुई थी लेकिन अब कोई कमी नहीं है।' उन्होंने कहा, 'वित्त वर्ष 2016-17 के आखिर में हमें सरकार से 45,000 करोड़ रुपये का कर्ज ट्रेजरी बिलों की दर पर मिला है। यह कर्ज हमें 5 साल के लिए दिया गया है।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!