जेतली के फैसले से गिरा बिटक्वाइन

Saturday, February 3, 2018 8:50 AM
जेतली के फैसले से गिरा बिटक्वाइन

नई दिल्लीः कीमतों में तेजी को लेकर चर्चा में रहने वाली आभासी मुद्रा (क्रिप्टो करंसी) बिटक्वाइन के दाम में गिरावट थमती नजर नहीं आ रही है। वीरवार को वित्त मंत्री अरुण जेतली की ओर से बिटक्वाइन पर सख्ती के फैसले से इसके दाम 10,000 डॉलर से नीचे आ गए। देश में क्रिप्टो करंसी की मान्यता को लेकर सरकार ने अपना रुख स्पष्ट कर दिया है। वित्त मंत्री अरुण जेतली ने वीरवार को संसद में पेश बजट में दो टूक कहा कि बिटक्वाइन जैसी आभासी मुद्रा को सरकार मान्यता नहीं देगी। इस पर नकेल कसने के लिए जल्द कदम उठाए जाएंगे। इस फैसले के बाद बिटक्वाइन की कीमत 7 प्रतिशत से भी अधिक घटकर 9,500 डॉलर के करीब रह गई है। दिसम्बर में इसकी कीमत 20 हजार डॉलर के करीब पहुंच गई थी।

बिटक्वाइन कारोबार पर आयकर विभाग का शिकंजा
आयकर विभाग ने बिटक्वाइन कारोबार पर शिकंजा कसते हुए ‘कुछ लाख’ लोगों को नोटिस भेजे हैं। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सी.बी.डी.टी.) के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने कहा कि अब विभाग इस तरह के निवेश पर कर वसूली का प्रयास कर रहा है। चंद्रा ने कहा, ‘‘कर अधिकारियों के संज्ञान में आया है कि इस तरह के कई निवेशकों ने उन्हें हुए लाभ पर अग्रिम कर नहीं दिया है। वहीं कुछ दूसरों ने पिछले कर रिटर्न में इसके बारे में स्पष्ट नहीं किया है।’’

क्रिप्टो करंसी इस्तेमाल पर रोक जल्द
जेतली ने कहा कि आभासी मुद्रा के प्रयोग को समाप्त करने और इसे चलन से बाहर करने के लिए सभी प्रकार के कदम उठाए जाएंगे। सरकार आभासी मुद्रा (क्रिप्टो करंसी)को वैध मुद्रा के रूप में कभी स्वीकार नहीं करेगी। इस तरह की सभी मुद्रा देश में गैर-कानूनी है, इस पर रोक लगेगी। वित्त मंत्री के इस फैसले का असर बिटक्वाइन के साथ रिपल और अन्य आभाषी मुद्राओं पर भी हुआ है। रिपल का दाम वीरवार को एक डॉलर से नीचे चला गया। यह दूसरा मौका है जब रिपल का दाम एक डॉलर से नीचे गया है।

कुछ लाख नोटिस भेजे
विभाग ने पिछले साल दिसम्बर में इन एक्सचेंजों में अखिल भारतीय स्तर पर सर्वे किया था। उन्होंने कहा, ‘‘हमने कुछ लाख निवेशकों को नोटिस भेजे हैं। इनमें से कई ने कर अदा करने की सहमति दी है। जहां तक बिटक्वाइन में किए गए निवेश का सवाल है, हम निश्चित रूप से उनसे कर वसूलेंगे।’’ सी.बी.डी.टी. प्रमुख से नोटिसों की संख्या के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ये ‘कुछ लाख’ हैं। 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन