नोटबंदी के बाद 246 करोड़ जमा कराने वाला नेता IT विभाग के रेडार पर

Saturday, September 9, 2017 1:21 PM
नोटबंदी के बाद 246 करोड़ जमा कराने वाला नेता IT विभाग के रेडार पर

चेन्नईः कालेधन के खिलाफ चल रहे अभियान के तहत आयकर विभाग ने 246 करोड़ रुपए की बेनामी बैंक जमा का पता लगाया है। यह बेनामी बैंक डिपॉजिट एक ही  ट्रांजैक्शन में किया गया है। सूत्रों के अनुसार इतना बड़ा ट्रांजैक्शन 8 नवंबर से 30 दिसंबर के बीच किया गया था और इसके तार एक जाने-माने नेता से जुड़े हैं। विभाग ने नेता के नाम का खुलासा नहीं किया है।

नोटबंदी के बाद जमा हुए पैसे
विभाग को जांच में पता चला कि तमिलनाडु में कुल 240 करोड़ रुपए का लेनदेन संदिग्ध है। यह लेनदेन 441 खातों में किया गया है लेकिन खाता धारकों की जानकारी विभाग को नहीं मिल पाई है। नोटबंदी की घोषणा होने के बाद संदिग्ध लेनदेन करने वाले 27,739 बैंक खातों के मालिकों को वेरिफिकेशन के लिए नोटिस भेजा गया है। आयकर विभाग के एक अधिकारी ने बताया, 'हमने जांच में पाया कि एक व्यक्ति के खाते में 246 करोड़ रुपए जमा हुए। यह पैसे बैंक के शाम को बंद होने के बाद जमा किए गए थे। नोटबंदी के दौरान जमा हुए पैसों की यह सबसे बड़ी राशि थी।'
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!