DLF सिंगापुर की जीआईसी को बेचेगी 40% हिस्सा

Thursday, March 2, 2017 2:36 PM
DLF सिंगापुर की जीआईसी को बेचेगी 40% हिस्सा

नई दिल्लीः डीएलएफ अपना रेंटल कारोबार सिंगापुर की कंपनी जीआईसी को बेचने वाली है। दोनों ही कंपनियों के बीच इस डील पर बातचीत जारी है। डीएलएफ अपने रेंटल कारोबार का 40 फीसदी हिस्सा सिंगापुर की जीआईसी को बेचेगी। माना जा रहा है कि 14,000 करोड़ रुपए में इस डील पर मुहर लग सकती है। खबर ये भी है कि इस डील के बाद क्यूआईपी भी आ सकता है। डीएलएफ की जीआईसी के साथ सौदे से मिले पैसे से कर्ज कम करेगी।

डीएलएफ के ग्रुप सीएफओ, अशोक त्यागी का कहना है कि 2-3 महीनों में जीआईसी के साथ डील की कागजी कार्रवाई पूरी कर ली जाएगी। इसके बाद ये डील रेगुलेटरी मंजूरी के लिए जाएगी, ऐसे में वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही तक इस डील का पैसा कंपनी के पास आ सकता है। हालांकि, रेंटल कारोबार को बेचने से कितना पैसा आएगा ये अभी कह पाना मुश्किल है।

अशोक त्यागी ने सफाई देते हुए कहा कि जीआईसी को डीएलएफ की ओर से नहीं बल्कि प्रोमोटरों की ओर से हिस्सा बेचा जा रहा है। रेंटल कारोबार में हिस्सा बेचने से मिलने वाले पैसे का निवेश डीएलएफ में किया जाएगा। निवेश के बाद अगर प्रोमोटरों की हिस्सेदारी 75 फीसदी से ज्यादा हो जाती है, तो इसे रेगुलेटरी पैमाने पर लाने के लिए हिस्सा बेचने पर विचार किया जा सकता है।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !