GST के लिए तैयार नहीं सिविल एविएशन मंत्रालय

Thursday, June 15, 2017 4:33 PM
GST के लिए तैयार नहीं सिविल एविएशन मंत्रालय

नई दिल्ली: विमानन मंत्रालय ने जी.एस.टी. क्रियान्वयन को दो महीने के लिए टालने की अपील की है। उसका कहना है कि एयरलाइनों को नई कर व्यवस्था का अनुपालन करने लिए अपनी प्रणालियों में बदलाव के लिए कुछ और वक्त की जरुरत है।
PunjabKesari
एयरलाइंस अभी GST के लिए तैयार नहीं
वस्तु एवं सेवा कर 1 जुलाई से लागू होने वाला है और उसकी तैयारी अंतिम चरण में है। इसी पृष्ठभूमि में मंत्रालय ने वित्त मंत्रालय को पत्र लिखकर उससे जी.एस.टी. क्रियान्वयन को दो महीने के लिए टालने की मांग की है। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार यह मांग इसलिए की गई है क्योंकि एयरलाइनें जी.एस.टी. अनुपालन के लिए अपने सिस्टम के साथ तैयार नहीं हैं। एयर इंडिया समेत विभिन्न एयरलाइनों ने जी.एस.टी. की कुछ पहलुओं को लेकर चिंता प्रकट की है।

इसलिए परेशान है मंत्रालय
एयरलाइन के अधिकारियों ने बताया कि जी.एस.टी. का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए वैश्विक टिकट वितरण प्रणाली में बदलाव करने में वक्त लगेगा। दूसरा, एयरलाइन अपने उपकरण या कलपुर्जे की ढुलाई पर जी.एस.टी. लगने की संभावना को लेकर भी परेशान हैं। कल केंद्रीय नागर विमानन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने एयरलाइनों, हवाईअड्डों और कार्गो समेत विमानन जगत के विभिन्न पक्षों के साथ जी.एस.टी. तैयारी पर एक बैठक की अध्यक्षता की थी। 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !