भाजपा के इरादों से बाजार को लगे पंख, महंगाई थामने की चुनौती

Tuesday, March 14, 2017 7:28 PM
भाजपा के इरादों से बाजार को लगे पंख, महंगाई थामने की चुनौती

नई दिल्लीः बी.एस.ई. के सैंसेक्स और नैशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी की लंबी उडान ने आज जहां नरेंद्र मोदी सरकार के अधिक कड़े आर्थिक सुधार के इरादों को पंख दिए वहीं मुद्रास्फीति के आंकडों ने महंगाई थामने की चुनौती पेश की।

रुपया सवा साल के उच्चतम स्तर 
उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार बनने से उत्साहित निवेशकों की चौतरफा लिवाली से निफ्टी और सैंसेक्स ने ऊंची छलांग मारी जिससे रुपया भी सवा साल के उच्चतम स्तर पर बोला गया। 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों के परिणामों में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भाजपा को असाधारण बहुमत मिला है जबकि गोवा में दूसरी बड़ी पार्टी होने के बावजूद वह सरकार बना रही है। 

मणिपुर में भी उसे सरकार बनाने का न्यौता मिल गया है। इससे मोदी सरकार को अपनी आर्थिक नीतियों को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी। केंद्र की भाजपा सरकार का इरादा श्रम सुधार और वित्त सुधार को कडाई से लागू करने और प्रतिबंधित क्षेत्रों को निवेश के लिए खोलने का है। 

सैंसेक्स 491 अंक मजबूत
चुनाव परिणामों से अर्थव्यवस्था में निवेशकों का विश्वास लौटने से सैंसेक्स 491 अंक चढ़कर 29,437.23 अंक पर खुला और 1.71 प्रतिशत यानी 496.40 अंक की बढ़त के साथ 05 मार्च 2015 के बाद के उच्चतम स्तर 29,448.95 अंक पर बंद हुआ। यह सूचकांक के अब तक के उच्चतम बंद स्तर 29,593.73 अंक से ज्यादा दूर नहीं है। निफ्टी 157.10 अंक की तेजी के साथ ,091.65 अंक पर खुला। 

कारोबार के दौरान ,122.75 अंक के दिवस के उच्चतम तथा ,060.50 अंक के निचले स्तर से होता हुआ 1.71 प्रतिशत यानी 152.45 अंक की तेजी में यह पहली बार ,000 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से ऊपर ,087 अंक पर बंद हुआ। शेयर बाजार के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में भी निवेशधारणा मजबूत रही जिससे रुपया 77 पैसे चढ़कर सवा साल के उच्चतम स्तर 65.82 रुपए प्रति डॉलर पर पहुंच गया। 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !