विलफुल डिफॉल्‍टर्स पर 91 हजार करोड़ रुपए का लोन बकाया

Friday, March 17, 2017 4:03 PM
विलफुल डिफॉल्‍टर्स पर 91 हजार करोड़ रुपए का लोन बकाया

नई दिल्लीः देश में विलफुल डिफॉल्टर्स यानी जानबूझ कर कर्ज न चुकाने वालों की संख्या 9130 है और उन पर 91,155 करोड़ रुपए का लोन बकाया है। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री संतोष गंगवार ने आज राज्य सभा में बताया कि सरकार ने विलफुल डिफॉल्टर्स से बकाया कर्ज की वसूली के लिए सैकड़ों मुकदमे दर्ज कराए हैं। इसके अलावा 2,000 से अधिक एफआईआर दर्ज की गई हैं।

यूपीए के कार्यकाल में माल्या को मिला था बैंकों से लोन
केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री के अनुसार बैंक जान-बूझकर कर्ज न चुकाने वालों का नाम और उनके फोटोग्राफ वेबसाइट के जरिए सार्वजनिक कर रहे हैं। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने कहा कि शराब कारोबारी विजय माल्या को यूपीए सरकार के कार्यकाल में बैंकों से 8,040 करोड़ रुपए का लोन मिला था। अब मोदी सरकार लोन न चुकाने के लिए माल्या के खिलाफ कदम उठा रही है। गंगवार ने कहा कि हमारी सरकार उनके खिलाफ कदम उठा रही है। माल्या मौजूदा समय में ब्रिटेन में रह रहे हैं। एजेंसियों के उनके खिलाफ समन जारी किए हैं। हमारे अनुरोध पर विदेश मंत्रालय ने उनका पासपोर्ट रद्द कर दिया है।

बैंकों पर एनपीए का दबाव
सरकारी बैंकों पर नॉन परफार्मिंग असेट यानी एनपीए का दबाव बढ़ रहा है। एनपीए ऐसा कर्ज होता है जो बैंक वसूल नहीं पाते हैं। जानिए किस बैंक पर एनपीए का कितना दबाव है।
एसबीआई- 97356 करोड़ रुपए
पीएनबी- 54640 करोड़ रुपए
बैंक ऑफ इंडिया- 44040 करोड़ रुपए
बैंक ऑफ बडौदा- 35467 करोड़ रुपए
कैनरा बैंक- 31466 करोड़ रुपए
इंडियन ओवरसीज बैंक- 31073 करोड़ रुपए
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया- 27891 करोड़ रुपए
आईडीबीआई बैंक लि.- 25973 करोड़ रुपए
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया- 25718 करोड़ रुपए
इलाहाबाद बैंक- 18852 करोड़ रुपए
ओबीसी- 18383 करोड़ रुपए



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!