देश की विभिन्न मंडियों में पहुंचीं 3,13,33,400 करोड़ रूई की गांठें

Sunday, June 4, 2017 10:25 AM
देश की विभिन्न मंडियों में पहुंचीं 3,13,33,400 करोड़ रूई की गांठें

जैतो: कपड़ा मंत्रालय के उपक्रम भारतीय कपास निगम (सी.सी.आई.) के अनुसार 31 मई तक देश के विभिन्न कपास पैदावार राज्यों की मंडियों में 3,13,33,400 करोड़ गांठें रूई की पहुंची हैं जिसमें पंजाब 8,79,800 लाख गांठ, हरियाणा 16,70,900 लाख, राजस्थान 15,78,600 लाख, गुजरात 77,83,300 लाख, महाराचट्र 85,93,900 लाख, मध्य प्रदेश 20,81,100 लाख, आंध्र प्रदेश 17,86,700 लाख, तेलगांना 45,74,900 लाख, कर्नाटक 15,83,200 लाख, उड़ीसा 2,90,400 लाख व अन्य राज्यों की 1,56,350 लाख गांठ रूई शामिल है।

बाजार जानकार सूत्रों के अनुसार अभी तक कपास सत्र 2916-17 के दौरान देश में कुल कपास गांठों का सही उत्पादन आंकड़ा सामने नहीं आया है। आई.सी.सी. मुम्बई के अनुसार देश में इस साल कपास उत्पादन 3 करोड़ 62 लाख गांठ पहुंचने की उम्मीद जताई है। दूसरी ओर कॉटन एसोसिएशन आफ इंडिया (सी.ए.आई.) ने अपनी ताजा रिपोर्ट में कहा कि 2016-17 के दौरान देश का कपास उत्पादन 3 करोड़ 40 लाख 50 हजार का अनुमान जताया है।

सी.ए.आई. के अनुसार देश में इस बार कपास की कुल उपलब्धता 410.50 लाख गांठ रहेगी जबकि घरेलू खपत 300 लाख गांठ रहेगी। इससे देश में 110.50 लाख गांठ कपास जरूरत से अधिक रहने की आस है लेकिन यह बात रूई के भावों में तेजी में फूंके तेजडिय़ों के गले नीचे नहीं उतर रही है। तेजडि़ए अभी भी रूई में मोटी तेजी की उम्मीद लगाए बैठे हैं। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!