देश में बनेंगे 10 नए स्‍वदेशी न्यूक्लियर रिएक्टर्स!

Thursday, May 18, 2017 10:29 AM
देश में बनेंगे 10 नए स्‍वदेशी न्यूक्लियर रिएक्टर्स!

नई दिल्लीः भारत में घरेलू परमाणु उर्जा कार्यक्रम को तीव्र गति से आगे बढ़ाने और देश के परमाणु उद्योग को गति प्रदान करने की पहल करते हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 10 स्वदेशी प्रेशराइज्ड हैवी वॉटर रिएक्टरों के निर्माण को मंजूरी प्रदान कर दी । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्ष में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। प्रत्येक रिएक्टर की क्षमता 700 मेगावाट होगी और इस तरह से कुल 10 इकाइयों की क्षमता 7000 मेगावाट होगी। इससे देश की परमाणु उर्जा उत्पादन क्षमता को काफी ताकत मिलेगी। 

यहां बनेंगे 10 न्‍यूक्लियर प्‍लांट
10 न्‍यूक्लियर रिएक्‍टर माही बांसावाड़ा (राजस्‍थान), चुटका (मध्‍य प्रदेश), कैगा (कर्नाटक) और गोरखपुर (हरियाणा) में बनाए जाएंगे। अभी राजस्‍थान, गुजरात और तमिलनाडु में अंडरकंस्‍ट्रक्‍शन न्‍यूक्लियर पावर प्‍लांट हैं। कैबिनेट मीटिंग के बाद कोल एंड पावर मिनिस्टर पीयूष गोयल ने बताया किअंडर कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट के तहत 2021-22 तक 6700 मेगावाट बिजली पैदा की जाने लगेगी।

ये होगी प्रोजेक्ट की लागत
सरकार का कहना है कि करीब 70 हजार करोड़ की लागत वाले इस प्रोजेक्ट की मदद से देश की न्यूक्लियर इंडस्ट्री को ट्रांसफॉर्म करने में मदद मिलेगी। इसमें न्यूक्लियर पावर सेक्टर को इंडस्ट्री की हाईएंड टेक्नोलॉजी के साथ लिंक किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट के जरिए 33,400 जॉब्स क्रिएट होंगे। पिछले करीब 40 साल से भारत के PHWR रिएक्टर्स बनाने और उन्हें ऑपरेट करने की पूरी दुनिया ने तारीफ की है।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!